करणी सेना के चीफ सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर भाजपा और कांग्रेस में छिड़ी जुबानी जंग


नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की मंगलवार को हुई हत्या को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस में वाकयुद्ध देखने को मिला. दोनों पार्टियों ने एक दूसरे के शासनकाल में कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो जाने का आरोप लगाया.

पुलिस ने बताया कि जयपुर में तीन सशस्त्र हमलावरों ने मंगलवार को श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की उनके घर में गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस ने बताया कि जवाबी गोलीबारी में एक हमलावर भी मारा गया.

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता गजेंद्र सिंह शेखावत ने कानून-व्यवस्था की स्थिति के लिए राजस्थान की पिछली कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि अशोक गहलोत सरकार के समय से राज्य में जिस तरह से ‘गैंगवार’ शुरू हुए हैं, यह उसका प्रतिकूल प्रभाव है.

संबंधित खबरें

उन्होंने संसद परिसर में  कहा, “करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह को मिली धमकियों के कारण उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी और प्रशासन को भी इसके बारे में चेतावनी दी थी. लेकिन दुर्भाग्य से, जिस स्तर पर सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए थी, उस स्तर पर सुरक्षा प्रदान नहीं की गई.” शेखावत ने कहा कि जिन लोगों ने यह जघन्य कृत्य किया है, उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए और कड़ी सजा दी जानी चाहिए.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने दावा किया कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सत्ता में आने की जानकारी मिलते ही राजस्थान में अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं. कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने कहा कि अशोक गहलोत सरकार के जाते ही करणी सेना प्रमुख की हत्या हुई है.

.



Source link

Leave a Comment