दूसरे इलाकों में दिखने लगा असर, सोहना बाईपास पर पथराव, धारा 144 लागू, इंटरनेट भी बैन

[ad_1]

नूंह: हरियाणा के नूंह में विश्व हिंदू परिषद की ओर से निकाली गई भगवा यात्रा के दौरान पथराव और फायरिंग की घटना के बाद तनाव फैल गया है। नूंह हिंसा में एक होमगार्ड की मौत हो गई है जबकि दो पुलिस अधिकारी घायल हो गए हैं। पुलिस लगातार मामले को शांत कराने में लगी हुई है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है। साथ ही इंटरनेट सेवा भी अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। वहीं नूंह में हुए घटनाक्रम का असर पूरे प्रदेश में देखने को मिल रहा है। सोहना बाईपास में बवाल छिड़ गया है। दो समुदाय के लोगों के बीच जमकर पथराव हुआ। इसके अलावा बहादुरगढ़ में बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने सेक्टर 9 मोड़ पर जाम लगाने का प्रयास किया। पढ़िए लेटेस्ट अपडेट्स-

@9.30 PM: 2500 लोगों ने मंदिर में ली शरण
हरियाणा के नूंह में बड़े पैमाने पर हिंसा भड़कने के बाद लगभग 2,500 लोगों ने गुरुग्राम के पास एक मंदिर में शरण ली। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को आंसूगैस का इस्तेमाल करना पड़ा। पुलिस ने हवाई फायर भी किए। तनाव ग्रस्‍त इलाके में अतिरिक्‍त बलों की तैनाती की गई है। करीब 20 लोग घायल हो गए हैं। सरकार ने नूंह में 2 अगस्त तक मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी हैं।

@8.45 PM: गुरुग्राम में भी धारा 144 लागू
नूंह हिंसा की आग गुरुग्राम तक पहुंच गई है। गुरुग्राम में भी धारा 144 लागू कर दी गई है। गुरुग्राम के जिलाधीश एवं डीसी निशांत कुमार यादव ने गुरुग्राम में कानून के बेहतर अनुपालन कराए जाने और शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा 144 लागू की है। सोमवार शाम जिलाधीश की ओर से निर्देश जारी किए गए। जारी आदेशों में आगामी आदेशों तक जिले में शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा 144 लागू करते हुए आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के आदेश दिए हैं।

@8.40 PM: सीएम ने की शांति की अपील
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जनता से अपील की है। सभी पक्षकारों से मुख्यमंत्री ने शांति की अपील की। उन्होंने कहा कि बातचीत और संवाद से सभी विषय हल हो सकते हैं। हरियाणा एक हरियाणवी एक के सिद्धांत पर चलकर प्रदेश और समाज के हित में सभी नागरिक योगदान दें।

@8 PM: दोनों पक्षों से बात करेंगे डिप्टी कमिश्नर
नूंह के डिप्टी कमिश्नर दोनों पक्षों से रात साढ़े 8 बजे बैठक करेंगे। इलाके में पुलिस बल तैनात है। हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा, ‘वहां पर्याप्त संख्या में बल तैनात किया जा रहा है। हमने केंद्र से भी बात की है. हम वहां शांति बहाल करने की कोशिश कर रहे हैं। मेवात क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में फंसे सभी लोगों को बचाया जा रहा है।’

जहां-जहां भी लोग फंसे हुए हैं उन्हें रेस्क्यू किया जा रहा है और वहां पर अतिरिक्त फोर्स भेजी जा रही है। मेवात के एसपी छुट्टी पर थे लेकिन पलवल के एसपी के पास दोनों जिलों का चार्ज था और वह मौके पर उपस्थित है और लोगों को रेस्क्यू करने के लिए वह फोर्स लेकर वहां पहुंचे हैं।

अनिल विज, हरियाणा के गृह मंत्री

@ 7.56 PM: विधायक की अपील
नूंह से कांग्रेस विधायक चौधरी आफताब अहमद ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा, ‘हम लोगों से अपील कर रहे हैं कि स्थिति को सामान्य बनाएं और सहयोग करें। स्थिति दुर्भाग्यपूर्ण है, यह पूरी तरह प्रशासनिक और पुलिस फेल्योर है। हम यहीं अपील करेंगे कि किसी षडयंत्र के शिकार न हों। अफवाहों के शिकार न हों।’

@7.37 PM: गुरुग्राम में होमगार्ड जवान शहीद
गुरुग्राम खेड़की दौला थाना का होमगार्ड जवान नूंह दंगे में शहीद हो गया है जबकि दो अधिकारी घायल हो हुए हैं। गुरुग्राम के एक इंस्पेक्टर को पेट में गोली लगी और डीएसपी होडल सज्जन सिंह को सिर में गंभीर चोट लगी है।

@7.10 PM: सोहना बाईपास में उपद्रव
भगवा यात्रा पर पथराव से नूंह में भड़की आग गुड़गांव के सोहना तक पहुंच गई है। सोहना के अंबेडकर चौक पर उपद्रवियों ने पथराव किया। पुलिस के कई वाहन क्षतिग्रस्त किए। एहतियात के तौर पर दिल्ली-जयपुर हाईवे के राजीव चौक पर फोर्स तैनात की गई है। गुड़गांव से करीब 1 हजार पुलिसकर्मी नूंह भेजे गए हैं।

@6 PM: ‘सिर्फ मोदी-योगी कर रहे काम’
नूंह में हुए घटनाक्रम से प्रदेश भर में स्थिति तनावपूर्ण हो गई है। बहादुरगढ़ में बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने सेक्टर 9 मोड़ पर जाम लगाने का प्रयास किया। पुलिस के समझाने पर कार्यकर्ता वहां से हट गए। बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने हरियाणा सरकार को ढीली सरकार बताया। नूंह में सेना भेजने की मांग की गई। कार्यकर्ता बोले कि बीजेपी सरकार में केवल मोदी और योगी ही ठीक काम कर रहे हैं। अन्य प्रदेशों की सरकारें सख्त रवैया नहीं अपना रही हैं।

पुलिस की 10 कंपनियां बुलाई गईं
प्रशासन की ओर से जिले की सभी सीमाओं को बंद कर दिया गया है। अज्ञात व्यक्ति की आवाजाही पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी गई है। स्थिति को कंट्रोल करने के लिए नूंह जिले में पुलिस की 10 कंपनियां बुलाई गई है। इसके अलावा एक मंदिर में भी तोड़फोड़ व आगजनी की घटना को अंजाम दिया गया है। जिले में धारा 144 लगाते हुए इंटरनेट सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है।

Nuh clash 1

मंदिर में फंसी महिलाएं
जैसे ही दो गुटों में हिंसा हुई वैसे ही महिला श्रद्धालुओं को पुलिस ने मंदिर में ही बंद कर दिया। जब तक हिंसा समाप्त नहीं हो जाती तब तक महिलाएं मंदिर में ही फंसी हुई हैं। इस घटना से पूरे क्षेत्र में डर का माहौल पैदा हो गया है। लगातार के जिलों से पुलिस पहुंच रही है लेकिन हालात काबू नहीं हो पा रहे हैं।

Nuh Clash

साइबर थाना के समाने जल रहीं गाड़ियां
उपद्रवियों ने साइबर थाना नूंह के सामने ही गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। पुलिस के दो वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए। इस दौरान पुलिस के कई कर्मचारी भी घायल हो गए। आग लगने से आसमान में काला धुआं छा गया है।

शोभा यात्रा बडकली चौक पर आनी थी उससे पहले ही हिंसा भड़क गई इस दौरान बडली चौक पर काफी उपद्रवियों की भीड़ जमा थी जिसको देखते हुए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और भीड़ को तितर-बितर किया गया।

कैसे छिड़ी हिंसा?
महादेव मंदिर से शुरू हुई शोभायात्रा बडकली चौक से होती हुई फिरोजपुर झिरका और पुन्हाना के गांव सिंगार आनी थी लेकिन उपद्रवियों ने पहले ही यात्रा पर पथराव कर दिया। इस दौरान फायरिंग भी की गई गाड़ियों को तोड़ा गया और दर्जनों गाड़ियां आग के हवाले कर दी गई।

सोमवार करीब 1 बजे भगवा यात्रा के दौरान तिरंगा पार्क के पास हिंसा भड़की, जिसने देखते ही देखते पूरे नूंह शहर को अपनी चपेट में ले लिया। इस दौरान पुराना बस स्टैंड, होटल बाइपास, मेन बाजार, अनाज मंडी और गुरुग्राम-अलवर हाइवे पर एक के बाद एक गाड़ियां फूंक दी गई। अब तक 30 से ज्यादा वाहनों में आगजनी और तोड़फोड़ हो गई। इनमें कारों के अलावा पुलिस की गाड़ियां, बसें, बाइक, स्कूटी और दूसरे वाहन शामिल रहे।

[ad_2]

Source link

Leave a Comment