पाकिस्तान के यूट्यूबर ने डाले भड़काऊ वीडियो; लाहौर बैठे अहसान मेवाती ने राजस्थान की लोकेशन बताई | Haryana Nuh Violence Situation Update; Manohar Lal Khattar Anil Vij | Internet Services – Nuh Curfew

[ad_1]

नूंह9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
पाकिस्तानी यूट्यूबर अहसान मेवाती और 31 जुलाई को नूंह में हिंसा के दौरान गाड़ियों में आगजनी करते दंगाई। - Dainik Bhaskar

पाकिस्तानी यूट्यूबर अहसान मेवाती और 31 जुलाई को नूंह में हिंसा के दौरान गाड़ियों में आगजनी करते दंगाई।

हरियाणा की नूंह हिंसा में अब पाकिस्तानी कनेक्शन सामने आया है। हरियाणा पुलिस की जांच में पाकिस्तानी यूट्यूबर जीशान मुश्ताक के बारे में पता चला है। जिसने भड़काऊ पोस्टें डाली थी। इस यूट्यूबर ने अहसान मेवाती पाकिस्तानी के नाम से सोशल मीडिया अकाउंट बना रखा था।

जिसमें उसने अपनी लोकेशन राजस्थान के अलवर बताई थी हालांकि हकीकत में वह पाकिस्तान के इस्लामाबाद में बैठा हुआ था। उसने मोनू मानेसर को मारने और नूंह में बवाल बचाने के लिए उकसाया था। यहां तक कि हिंसा के दिन जब जमकर आगजनी और तोड़फोड़ हो रही थी तो वह दूसरे वीडियो के साथ हिंसा के फुटेज भी जारी कर रहा था। इससे उसके नूंह में स्ट्रॉन्ग ग्राउंड कनेक्ट का शक पैदा हो गया है।

यही नहीं, उसने जिस IP एड्रेस से ये वीडियो अपलोड किए, वे पाकिस्तान एजुकेशन एवं रिसर्च नेटवर्क (PERN) के थे। इस सेंट्रलाइज्ड नेटवर्क से पाकिस्तान के एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस को इंटरनेट दिया जाता है। यह पाकिस्तान सरकार का ही हिस्सा है।

27 जुलाई को अहसान पाकिस्तानी पंजाब में सरगोधा के गांव कोट मुमीन में गया था, जहां उसने एक वीडियो रिकॉर्ड किया। हिंसा के बाद 1 अगस्त को वह लाहौर पहुंचा। यहां से जब उसने वीडियो अपलोड किया तो वह पाकिस्तानी पंजाब के CM सेक्रेट्रिएट से कुछ किमी की दूरी पर बिस्मिल्लाह मोंटेसरी स्कूल के क्रिकेट ग्राउंड के पास था। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे अहसान मेवाती के अकाउंट्स की डिटेल। जिसमें एक में वह पाकिस्तान और दूसरे में अपनी लोकेशन अलवर राजस्थान बता रहा है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे अहसान मेवाती के अकाउंट्स की डिटेल। जिसमें एक में वह पाकिस्तान और दूसरे में अपनी लोकेशन अलवर राजस्थान बता रहा है।

नूंह में दूसरे दिन भी बुलडोजर एक्शन
नूंह में हुई हिंसा के 5 दिन बाद राज्य सरकार का बुलडोजर एक्शन दूसरे दिन भी जारी है। शनिवार को पुलिस फोर्स के साथ अधिकारी 4 बुलडोजर लेकर नूंह पहुंचे। यहां नलहड़ रोड पर 30 मकान-दुकान गिरा दी गईं। अधिकारियों का कहना है कि ये अवैध निर्माण हैं और इनमें रहने वाले 31 जुलाई की हिंसा में शामिल थे। इससे पहले शुक्रवार को नूंह में ही 25 घर-दुकानों और रोहिंग्या की 250 झुग्गियों पर बुलडोजर चलाया गया था। पुलिस ने इन्हें भी अवैध कब्जा करार दिया था।

नूंह में नल्हड़ रोड पर अवैध निर्माण तोड़ता बुलडोजर और उससे इकट्‌ठा हुए मलबा। पुलिस का कहना है कि ये लोग हिंसा में शामिल थे।

नूंह में नल्हड़ रोड पर अवैध निर्माण तोड़ता बुलडोजर और उससे इकट्‌ठा हुए मलबा। पुलिस का कहना है कि ये लोग हिंसा में शामिल थे।

4 जिलों में इंटरनेट बंद होने का आखिरी दिन
नूंह हिंसा के चलते 4 जिलों- नूंह, पलवल, फरीदाबाद और गुरुग्राम में हालात तनावपूर्ण हुए हैं। चारों जिलों में पैरामिलिट्री फोर्सेज की 20 कंपनियां तैनात की गई हैं। नूंह, पलवल और फरीदाबाद में पूरे जिले और गुरुग्राम में मानेसर, पटौदी व सोहना में इंटरनेट 5 अगस्त यानी आज रात 12 बजे तक बंद है। राज्य के 9 जिलों में धारा 144 लागू है।

रोहतक में देर रात धार्मिक स्थल पर पथराव
शुक्रवार देर रात को रोहतक में कलानौर के गांव आंवल में देर रात धर्म स्थल पर पथराव कर दिया गया। इस दौरान अंदर रहने वाले लोग बाहर नहीं निकले और पुलिस को बुलाया। यहां 10-11 युवकों ने आकर हुड़दंग मचाया और ईंटें फेंकीं। हालांकि, पुलिस तुरंत वहां पहुंची और सिक्योरिटी तैनात कर दी।

करनाल में रेहड़ियां पलटी
शुक्रवार को करनाल में तरावड़ी शहर की सौकड़ा पुलिया और सब्जी मंडी के सामने बाइक सवार बदमाशों ने फल-सब्जियों की रेहड़ियां पलटकर हुड़दंग किया। सभी आरोपी नकाबपोश थे और रेहड़ियां विशेष समुदाय के लोगों की थी। ये देख आसपास के दुकानदारों ने उन्हें वहां से खदेड़ दिया। इस मामले में देर रात पुलिस ने तरावड़ी के कुछ लोगों पर FIR दर्ज कर ली।

सरकार ने नूंह के SP-DC को हटाया
इसके साथ सरकार ने शुक्रवार देर शाम नूंह के DC प्रशांत पंवार को हटा दिया। उनकी जगह पर धीरेंद्र खड़ागटा को भेजा गया है। इससे पहले गुरुवार देर रात नूंह के SP वरूण सिंगला का ट्रांसफर कर दिया गया। नूंह में हिंसा के दौरान वह छुट्‌टी पर थे। उनकी जगह पर अब नरेंद्र बिजराणिया को नूंह का नया SP बनाया गया है।

सरकार के सूत्रों के मुताबिक नूंह में सरकार बड़े एक्शन की तैयारी में है। इसलिए इन दोनों अधिकारियों को वहां तैनात किया गया है।

फायरिंग के वीडियो वाले बाबा सामने आए
नूंह में ब्रजमंडल यात्रा के दौरान 31 जुलाई को हुई हिंसा का एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। जिसमें कहा जा रहा है कि मंदिर से भी फायरिंग की गई। अब फायरिंग करने वाले अशोक बाबा उर्फ अशोक शर्मा सामने आए हैं। बाबा फरीदाबाद में बजरंग दल के विभाग संयोजक हैं। बाबा ने कहा कि ये उनकी लाइसेंसी बंदूक है। जब दंगाई मंदिर के बिल्कुल करीब आ गए और अंदर महिलाओं व बच्चों-बुजुर्गों की जान खतरे में पड़ गई तो उन्होंने सेल्फ डिफेंस में ये फायरिंग की।

फायरिंग करते नजर आ रहे अशोक बाबा। अशोक का कहना है कि जब दंगाई मंदिर के पास आ गए और सामने पहाड़ी से मंदिर पर फायरिंग होने लगी तो उन्होंने कार से बंदूक निकालकर हवाई फायरिंग की।

फायरिंग करते नजर आ रहे अशोक बाबा। अशोक का कहना है कि जब दंगाई मंदिर के पास आ गए और सामने पहाड़ी से मंदिर पर फायरिंग होने लगी तो उन्होंने कार से बंदूक निकालकर हवाई फायरिंग की।

हिंसा में 6 की मौत, 202 लोग गिरफ्तार
हिंसा में अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें 2 होमगार्ड गुरसेवक और नीरज, नूंह के शक्ति, पानीपत के अभिषेक, गुरुग्राम के इमाम और बादशाहपुर के प्रदीप शर्मा शामिल हैं।

राज्य में पुलिस ने कुल 102 केस दर्ज किए हैं। 202 लोगों को गिरफ्तार और 78 को हिरासत में लिया है। नूंह हिंसा की जांच के लिए स्पेशल टास्क फोर्स (STF) की 8 और 3 स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीमें बनाई गई हैं।

नूंह में 55, गुरुग्राम में 23, पलवल में 18 और रेवाड़ी-फरीदाबाद में 3-3 FIR दर्ज हुई हैं। नूंह में 141 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

नूंह हिंसा से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

क्या राजस्थान से निकली नूंह दंगों की चिंगारी: दंगाइयों में कई राजस्थानी, नासिर-जुनैद के गांव में लोग बोले- जो हुआ वो मेवात का जवाब

हरियाणा के नूंह जिले में भड़की सांप्रदायिक हिंसा की चिंगारी कहीं राजस्थान से तो नहीं उठी? पकड़े गए दंगाईयों में 8 राजस्थान के हैं। ये आरोपी भरतपुर और अलवर जिले के मेवात क्षेत्र के गांवों से वहां पहुंचे थे। अभी भी कई लोग पुलिस की हिरासत में हैं।

नूंह हिंसा को भिवानी (हरियाणा) के जंगलों में चार महीने पहले हुई नासिर-जुनैद की हत्या के बदले से जोड़कर देखा जा रहा है। ऐसे में इस हिंसा से जुड़ा हर पहलू को जानने के लिए भास्कर टीम नासिर-जुनैद के गांव घाटमीका (भरतपुर) पहुंची। पूरी खबर पढ़ें…

दंगाई 3 थानों से गुजरे, 2km दूर साइबर थाना जलाया: नूंह दंगों की आड़ में कहीं 11 FIR निपटाना तो नहीं था प्लान

हरियाणा के नूंह में 31 जुलाई को भड़की हिंसा के प्री-प्लांड होने का दावा CM मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज ने किया है। भास्कर की इन्वेस्टिगेशन में सामने आया है कि भले ही पूरा दंगा प्लांड नहीं था, लेकिन नूंह के साइबर पुलिस स्टेशन को जलाया जाना सवालों के घेरे में है।

इस हिंसा के तार 28 अप्रैल को नूंह के 14 गांवों में हुई पुलिस रेड, 11 FIR और नूंह को साइबर क्राइम का अड्डा बनाने वाले लोगों से जुड़ते नजर आ रहे हैं। पूरी खबर पढ़ें…

नूंह हिंसा के आरोपियों का खुलासा:साजिश के तहत भीड़ में घुसे; अवैध हथियारों से फायरिंग की, लाठी-पत्थर से हमला, UP-राजस्थान में छुपे​​​​​​

हरियाणा के नूंह में हुई हिंसा के बाद पकड़े गए आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में कई बड़े खुलासे किए हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपियों ने बताया कि साजिश के तहत इस हिंसा को अंजाम दिया गया था। भीड़ में शामिल होकर अवैध हथियारों से फायरिंग की (पूरी खबर पढ़ें)

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Comment