Site icon Newsbaaz

ABP News C Voter Survey Ashok Gehlot Is Ahead Of Sachin Pilot Shows Result


ABP Rajasthan C Voter Survey: राजस्थान में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं. इससे पहले सियासी पारा चढ़ा हुआ है. राजस्थान में हर पांच साल बाद सत्ता बदलने का रिवाज रहा है. एबीपी न्यूज़ के लिए सी वोटर ने जो ओपनियन पोल किया है उसमें भी फिलहाल यही बात सामने आ रही है. सर्वे में एक और दिलचस्प आंकड़ा सामना आया है. भले ही कांग्रेस की सरकार बनती नहीं दिख रही हो लेकिन सर्वे के मुताबिक, सीएम अशोक गहलोत राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने आगे निकलते दिखाई दे रहे हैं. 

सीएम पद की पसंद कौन?

दरअसल, लोगों ने सवाल किया गया कि राजस्थान में सीएम की पसंद कौन हैं, इसके जवाब में 35 फीसदी लोगों ने अशोक गहलोत को अपनी पसंद बताया है. दूसरे नंबर पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे हैं जिन्हें 25 फीसदी लोगों ने पसंद किया है. राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट तीसरे पायदान पर हैं, जिन्हें 19 फीसदी लोगों ने सीएम पद के लिए अपनी पसंद बताया है. केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत नौ फीसदी तो राज्यवर्धन राठौड़ पांच फीसदी लोगों की पसंद बने हैं. अन्य को सात फीसदी लोगों ने सीएम पद के लिए अपनी पसंद बताया है. 

Exclusive: चुनाव या बाद में किस पार्टी से करेंगे गठबंधन? हनुमान बेनीवाल बोले- ‘कांग्रेस-BJP के साथ तो…’

कांग्रेस का चेहरा किसे होना चाहिए?

न सिर्फ सीएम पद के सवाल पर बल्कि चेहरे के सवाल में भी सचिन पायलट सीएम अशोक गहलोत से पिछड़ते दिखाई दे रहै हैं. सर्वे में लोगों से ये भी पूछा गया कि कांग्रेस को किसके चेहरे पर चुनाव लड़ना चाहिए, इस पर 41 फीसदी लोगों ने कहा कि अशोक गहलोत के चेहरे पर ही कांग्रेस को भरोसा जताना चाहिए. यहां पायलट को 30 फीसदी लोगों ने कांग्रेस का चेहरा माना है. वहीं 23 फीसदी लोग दोनों को चेहरा नहीं मानते हैं. सर्वे में छह फीसदी लोगों ने पता नहीं में जवाब दिया. 

बता दें कि abp न्यूज़ के लिए सी वोटर ने राजस्थान के चुनाव का पहला सबसे बड़ा ओपिनियन पोल किया है. इस सर्वे में 14 हजार 85 लोगों से बात की गई है. इसके साथ ही राजस्थान की राजनीति के मौजूदा मुद्दों पर त्वरित सर्वे भी किया गया है. इसमें 1 हजार 885 लोगों की राय ली गई है. सर्वे 25 जुलाई तक किया गया है. इसमें मार्जिन ऑफ एरर प्लस माइनस 3 से प्लस माइनस 5 फीसदी है.



Source link

Exit mobile version