Giridih Muharram Tajiya Juloos Fierce Fighting Between The Two Sides More Than Dozen People Injured ANN

[ad_1]

Giridih Muharram Juloos: झारखंड के गिरिडीह में मुहर्रम के दौरान ताजिया जुलूस और अखाड़ा निकालने को लेकर एक ही समुदाय के दो पक्ष आपस में भिड़ गए. इस दौरान दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर जमकर लाठियां और तलवार भांजी और पथराव किया. इस घटना में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए हैं. वहीं स्थिति को नियंत्रण करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा है. यह पूरा मामला गिरिडीह जिले के तिसरी थाना क्षेत्र के पलमरुआ गांव की है. दोनों पक्ष के घायलों को इलाज के लिए तिसरी सामुदायक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां सभी का इलाज किया गया.

क्या है मामला?

बताया जा रहा है कि शनिवार (29 जुलाई) को तिसरी थाना इलाके के अड़सार गांव के लोग ताजिया लेकर पलमरुआ गांव की ओर आए थे. जहां पर पलमरुआ गांव के राजा नगर के लोग पहले से अखाड़ा लगाए हुए थे. इसी दौरान किसी बात को लेकर अड़सार और पलमरुआ राजा नगर के लोग भिड़ गए. इसके बाद दोनों ओर से लाठियां चलने लगी. पुलिस की पहल के बाद झगड़ा कुछ देर के लिए शांत हो गया, जिसके बाद दोनों पक्ष के लोग ताजिया जुलूस लेकर वहां से चले गए. कुछ देर के बाद भुरंगोडीह से ताजिया घुमाकर वापस आने के क्रम में फिर से दोनों पक्ष के लोग आपस में भिड़ गए. इस मारपीट में दर्जनभर से अधिक लोग घायल हो गए हैं.

पुलिस और प्रशासन की मौजूदगी में दोबारा निकला जुलूस

इस दौरान जमकर पत्थरबाजी की गई. इस घटना में एक पक्ष के मो. मुस्तफा सहित चार लोग घायल हुए हैं. वहीं दूसरे पक्ष के मों जबीन, नूरआलम, जसिन, मो. नसरुल, मो. नसीम, जबीर, अब्दुल बारीक आदि लोग घायल हुए हैं. इसमें एक पक्ष के मो. मुस्तफा और दूसरे पक्ष के मो. नसरुल को गंभीर चोट लगी है. दोनों पक्ष एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. बाद में खोरीमहुआ एसडीएम धीरेंद्र सिंह और एसडीपीओ मुकेश महतो सहित अन्य पुलिस-प्रशासन की मौजूदगी में दोबार ताजिया जुलूस निकाला गया और जगह-जगह अखाड़ा लगाया गया. मौके पर तिसरी के बीडीओ संतोष प्रजापति, पुलिस इंस्पेक्टर प्रमोद सिंह, थाना प्रभारी प्रदीप कुमार सहित भारी संख्या में जवान तैनात रहे.

ये भी पढ़ें: Dhanbad News: जमीन में समाया जिंदा शख्स! एनडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू कर निकाला शव

[ad_2]

Source link

Leave a Comment