Monu Manesar On Fight With Bittu Bajrangi And Nuh Gurugram Violence

[ad_1]

Monu Manesar Exclusive On Nuh Violence: हरियाणा के नूंह (Nuh) और गुरुग्राम (Gurugram) में हुई हिंसा को लेकर दो नाम चार दिनों से चर्चा में है. ये नाम हैं मोनू मानेसर (Monu Manesar) और बिट्टू बजरंगी (Bittu Bajrangi) के. जुनैद-नासिर हत्याकांड में फरार मोनू मानेसर को राजस्थान और हरियाणा की पुलिस ढूंढ़ रही हैं. इस बीच मोनू मानेसर ने बुधवार (2 अगस्त) को एबीपी न्यूज़ से खास बातचीत की.

एबीपी न्यूज़ के शो पब्लिक इंटरेस्ट में मोनू मानेसर ने कहा कि हरियाणा में जो हिंसा हुई है उसके लिए वो जिम्मेदार नहीं है. इस हिंसा को लेकर विधायक मामन खान से सवाल पूछा जाना चाहिए. ये उसकी ही सोची समझी साजिश थी. हिंसा के मामन खान जिम्मेदार है. इस दौरान मोनू से बिट्टू बजरंगी से जुड़ा सवाल भी पूछा गया. 

मोनू मानेसर ने बिट्टू बजरंगी पर क्या कहा?

बिट्टू बजरंगी को लेकर मोनू मानेसर ने कहा कि वे फरीदाबाद के रहने वाले हैं, उनके बारे में इतना ही जानता हूं. मेरा कोई झगड़ा नहीं है, मेरे तो देश के सभी लोग दोस्त हैं. बिट्टू बजरंगी के वीडियो के बार में मुझे नहीं पता, मैं अपने वीडियो की बता सकता हूं. मैंने अपने वीडियो में कोई गलत बात नहीं की.  

हरियाणा के नूंह और गुरुग्राम में हिंसा

हरियाणा के नूंह जिले में सोमवार (31 जुलाई) को वीएचपी की शोभायात्रा पर पथराव के बाद हिंसा भड़क गई दी. जो बाद में गुरुग्राम तक फैल गई. इस हिंसा में दो होम गार्ड समेत छह लोगों की मौत हो चुकी है. आरोप है कि ये सांप्रदायिक झड़पें सोशल मीडिया पर गौरक्षक मोनू मानेसर और बिट्टू बजरंगी की ओर से पोस्ट की गई वीडियो से भड़की हैं. 

वीडियो में मोनू मानेसर इस शोभायात्रा में हिस्सा लेने की बात कर रहा था. वहीं बिट्टू बजरंगी अपने वीडियो में अभद्र टिप्पणी करते हुए भी सुनाई दे रहा है. हरियाणा पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उन्हें संदेह है कि वीडियो ने नूंह और मेवात क्षेत्र में हिंसा को भड़काने का काम किया है और मोनू मानेसर की भूमिका की जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें- 

Who Is Monu Manesar: कौन है मोनू मानेसर…जिसकी गिरफ्तारी के लिए राजस्थान की मदद को तैयार हैं मनोहर लाल खट्टर

[ad_2]

Source link

Leave a Comment