No Confidence Motion Debate Adhir Ranjan Chowdhury Slams PM Narendra Modi Over Manipur Violence Amit Shah Hits Back

[ad_1]

No Confidence Motion Debate: लोकसभा में केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर तीसरे दिन की चर्चा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा, जिस पर सदन में हंगामा हो गया. 

बीच में उठकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से आग्रह किया कि ‘या तो आप कंट्रोल कीजिए या फिर…’ दरअसल, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने अपने भाषण के दौरान कहा, ”मणिपुर में हमने देखा कि हमारे घर की मां-बहन को वस्त्रहीन हालत में, विवस्त्र करके उनके ऊपर हमले हो रहे हैं, बलात्कार की घटना घट रही है.” इसी दौरान कांग्रेस नेता ने महाभारत काल की द्रौपदी का जिक्र कर दिया.

इस पर सदन में हंगामा होने लगा. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी सीट से उठकर कहा, ”माननीय अध्यक्ष जी, आपने एक अपील की थी कि बहस को शांति से सुना जाए. हम बड़े धैर्य पूर्वक सुन रहे थे. उन्होंने कहा कि ब्रिटिश की कार्य पद्धति हमारी संसद ने एडॉप्ट की है. पूरे देश का अपमान किया, हम चुपचाप बैठे रहे. हमारी संविधान सभा ने यह पूरी प्रक्रिया तय की है, स्वीकार की है…”

लोकसभा अध्यक्ष से की कांग्रेस नेता को कंट्रोल करने की अपील

इसके बाद गृह मंत्री ने कहा, ”माननीय अध्यक्ष जी, इसके बाद भी (विपक्ष के नेता) अनर्गल बोलते रहे हैं. अभी ये जो प्रयास कर रहे हैं, उनकी पार्टी ने उनको समय नहीं दिया, आपने समय दिया, उसमें कुछ स्कोर करना चाहते हैं, मगर इस सदन की एक गरिमा है, देश के प्रधानमंत्री जी के बारे में जिस प्रकार का ये उल्लेख कर रहे हैं, मुझे लगता है, ये विपक्ष के नेता के लिए शोभा नहीं देता. आपको उनको या तो कंट्रोल करना चाहिए, या तो ट्रेजरी बेंच के एमपी भी ये नहीं सुन पाएंगे.

अधीर रंजन चौधरी ने नीरव मोदी से की पीएम मोदी की तुलना 

अधीर रंजन ने पलटवार करते हुए कहा, ”अमित शाह आप थोड़ा बैठ जाइए, प्रधानमंत्री जी को गुस्सा नहीं आता, आपको क्यों आता है इतना?” लोकसभा अध्यक्ष ने अधीर रंजन चौधरी से कहा, ”आप मुद्दों पर बोलिए.” अधीर रंजन चौधरी ने कहा, ”मुद्दे पर तो बोलते हैं सर, बहुत दिन पहले सुना कि इस देश से हजारों का रुपया लूटकर नीरव मोदी भागे थे. कोई भी उनको पकड़ नहीं सका. हमारे एनडीए सरकार की इतना ताकत है, उन्हें छू नहीं सकी. वो कैरेबियाई समुद्र के बीच में मस्ती करते देखे जाते हैं. जो मर्जी वो कहते रहते हैं.”

इतना बोलते हुए अधीर रंजन चौधरी बोल उठे, ”मैंने सोचा कि नीरव मोदी सारी जिंदगी के लिए हमारे से दूर चले गए लेकिन अब पता चला कि नीरव मोदी दूर नहीं गए, मणिपुर की घटना देखने के बाद ये पता चला नीरव मोदी यहां हिंदुस्तान में जिंदा है और नरेंद्र मोदी नीरव मोदी बनके अभी भी चुपचाप, अपनी चुप्पी साधकर बैठे हैं.”

रिकॉर्ड से निकाला गया बयान

अधीर रंजन चौधरी के इतने कहने पर सत्तापक्ष के सांसदों ने खड़े होकर विरोध किया. संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा अध्यक्ष से कहा, ”सर, इनको (अधीर रंजन चौधरी) माफी मांगना चाहिए, इनकी पार्टी ने इन्हें समय नहीं दिया, समय हमारी पार्टी से लिया है और अभी क्या-क्या बात कर रहे हैं, अनाप-शनाप बात नहीं चलेगी…” केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इनके (अधीर रंजन) के बयान को एक्सपंज करना चाहिए और इन्हें माफी मांगनी चाहिए. लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि बयान को रिकॉर्ड से निकाल दिया है.

यह भी पढ़ें- अधीर रंजन चौधरी पर लोकसभा में बरसे ज्योतिरादित्य सिंधिया, कहा- ‘माफी मांगिए’, गौरव गोगोई पर भी निशाना 

 

[ad_2]

Source link

Leave a Comment