Pandit Dhirendra Shastri’s court will be held in Sikar today | भारत में रहना होगा तो सीताराम कहना होगा, सीकर में किया रोड शो

[ad_1]

सीकर8 घंटे पहले

सीकर में शनिवार को बागेश्वर धाम सरकार के पीठाधीश्वर पं. धीरेंद्र शास्त्री का दरबार सजा। उन्होंने कहा- भारत राम का राष्ट्र है और राम के राष्ट्र में राम की ही चर्चा होगी। भारत में रहना होगा तो सीताराम कहना होगा। दरबार शाम 5.30 बजे शुरू हुआ और रात 9 बजे खत्म हुआ।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने कहा कि लोग मुझसे पूछते हैं कि आप भारत में करना क्या चाहते हो, मैंने कहा- मुझे सड़कों पर तूफान, मंदिरों में भीड़ चाहिए। राम राज्य से भारत-हिंदुस्तान चाहिए। सीकर के लोग कितने भाग्यशाली है कि यहां एक तरफ खाटूश्याम तो दूसरी तरफ सालासर बालाजी है और जीणमाता तो इस जिले की ही हैं।

न चांद की चाहत, न तारों की फरमाइश, हर पल तू मेरे साथ रहे बस यही मेरी ख्वाहिश। मैं तीसरी बार सीकर आया हूं। मैंने सोचा था कि सीकर में ज्यादा लोग नहीं होंगे, लेकिन यहां रोड शो के दौरान खड़े-खड़े कमर टूट गई। बड़ी मुश्किल से यहां तक पहुंच पाए।

सीकर में जयपुर रोड पर कहारों की ढाणी में पं. धीरेंद्र शास्त्री के दरबार में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे।

हनुमान जी को जगाने आया हूं
शास्त्री ने कहा कि मेरा तो एक ही सपना है कि जिन लोगों ने हमारे सनातन धर्म पर कुठाराघात किया, उनकी ठठरी और गठरी दोनों बांधी जाएगी। इसलिए ही मैं दिन-रात आप लोगों के बीच आता हूं।

शास्त्री ने कहा कि मैं यहां आप लोगों को चमत्कार दिखाने या फिर कथा सुनाने नहीं आया हूं। हम तो तुम्हारे अंदर केवल हनुमान जी को जगाने आए हैं। अगर हनुमान जी जाग जाएंगे तो तुम्हें दरबारों में भटकने की जरूरत नहीं होगी।

यदि मन में भक्ति जाग गई तो बागेश्वर धाम जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जहां रहोगे वहीं बागेश्वर धाम होगा। शास्त्री ने कहा कि अपने सनातन के साथ कभी समझौता मत करना। जीते जी मर जाना, लेकिन समझौता मत करना।

मैंने सबके मुंह बंद कर दिए
शास्त्री ने कहा कि तुम दूसरे मजहब के ताबीजों के चक्कर में मत पड़ो। यहां तो तुम मंदिर, कथा या हनुमान जी को छोड़ दो या फिर हनुमान जी पर ही सब कुछ छोड़ दो।

शास्त्री ने कहा कि सनातन पर उंगली उठाने वाले और मंदिरों को दुकान बताने वाले और बड़ी-बड़ी पोल खोलने वाले आए, लेकिन मैंने सबके मुंह बंद कर दिए। मैंने तो विदेशों में भी जाकर हिंदू राष्ट्र की घोषणा कर दी। अंग्रेज भी सीताराम कह रहे हैं। वहां जब अंग्रेजों ने मुझे रोका तो मैंने कह दिया कि काफिरों मुझे रोक कर क्या कर लोगे मैंने तो आग लगा दी है।

बाबा ने सीकर में रोड शो निकाला। रोड शो डाक बंगले से शुरू होकर सिल्वर जुबली रोड, जयपुर रोड होते हुए कार्यक्रम स्थल तक निकला।

शहर में किया रोड शो
इससे पहले पं. धीरेंद्र शास्त्री का सीकर में रोड शो शुरू हुआ। बाबा बाबा रोड शो डाक बंगले से कल्याण सर्किल, बजरंग कांटा, कृषि मंडी होते हुए रीको तिराहा तक निकला। रोड शो 2.25 बजे शुरू हुआ जो 3.30 बजे खत्म हुआ। रोड शो के दौरान शहर में करीब आधे घंटे ट्रैफिक जाम रहा।

नेशनल हाईवे संख्या 52 पर सभा स्थल के पास करीब 3 से 4 किलोमीटर का एरिया कार्यक्रम शुरू होने के पहले और बाद में जाम रहा। शास्त्री ने करीब 20 से ज्यादा लोगों के परिचय लिखे। इनमें कई अपनी शादी, नौकरी, व्यापार सहित अन्य सवाल पूछने वाले थे।

[ad_2]

Source link

Leave a Comment