Rajasthan Tribal Woman Stripped, Paraded In Pratapgarh Three Accused Arrested | Pratapgarh News

[ad_1]

प्रतापगढ़: राजस्थान के प्रतापगढ़ में मणिपुर जैसी शर्मनाक घटना सामने आई है। यहां एक गांव में आदिवासी महिला को निर्वस्त्र कर घुमाया गया। उसके साथ मारपीट की गई। इस शर्मसार कर देने वाली घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा खुद शुक्रवार रात को एक्शन में आए। उन्होंने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (अपराध) दिनेश एमएन को प्रतापगढ़ भेजा। शनिवार सुबह मिली ताजा जानकारी के अनुसार इस मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

पहाड़ी गांव में महिला से शर्मनाक हरकत

धरियावद के थाना प्रभारी पेशावार खान के अुनसार यह वारदात 21 वर्षीय महिला के साथ गुरुवार को हुई। थाना इलाके के पहाड़ी गांव में महिला के साथ शर्मानाक हरकत उसके पूर्व पति काना और अन्य रिश्तेदारों ने की। महिला के साथ मारपीट की गई। उसे निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया गया।

वीडियो वायरल हुआ तो हरकत में आई पुलिस, मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

महिला के साथ इस हैवानियत का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो सामने आने के बाद पुलिस हरकत में आई। महिला के पूर्व पति काना सहित तीन लोगों को हिरासत में लिया गया। जबकि अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। इस मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने त्वरित एक्शन लेते हुए पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा को कार्रवाई के निर्देश दिए। शुक्रवार देर रात ही जयपुर एडीजी दिनेश एमएन को प्रतापगढ़ भेज दिया गया।

हैवानित के पीछे पीहर और सुसराल पक्ष में विवाद

डीजीपी उमेश मिश्रा ने बताया कि प्रतापगढ़ जिले में महिला के साथ हुई घटना निंदनीय है। पीहर और ससुराल पक्ष के आपसी पारिवारिक विवाद में ससुराल पक्ष के लोगों ने ये शर्मनाक काम किया है। आरोपियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छह टीम गठित की गई है और प्रतापगढ़ पुलिस अधीक्षक अमित कुमार गांव में कैंप कर रहे हैं।

बीजेपी ने सरकार को घेरा, वसुंधरा राजे ने वीडियो शेयर नहीं करने की अपील की

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने इस मामले में कहा कि ‘आज राजस्थान फिर शर्मसार है। प्रतापगढ़ जिले के धरियावद तहसील के पहाड़ा ग्राम पंचायत के निचला कोटा में महिला अत्याचार की घटना का प्रशासन को भनक नहीं लगना बताता है कि आखिर राजस्थान क्यों महिला दुष्कर्म और अत्याचार में नंबर 1 पर है।’ पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस मामले में सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि लोगों के सामने गर्भवती महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने का वीडियो वायरल हुआ लेकिन प्रशासन को इसकी जानकारी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि इस घटना ने राजस्थान को शर्मसार कर दिया है। उन्होंने लोगों से सोशल मीडिया पर वीडियो साझा नहीं करने की भी अपील की है।

Rajasthan : कुचामनसिटी कांड पर निष्पक्ष जांच हो, वसुंधरा राजे बोलीं- दलित अत्याचार में राजस्थान अब दूसरे नंबर पर

सम्ब्रत चतुर्वेदी के बारे में

सम्ब्रत चतुर्वेदी असिस्टेंट न्यूज एडिटर

नवभारत टाइम्स डिजिटल के सहायक समाचार संपादक। पत्रकारिता में राजस्थान पत्रिका, दैनिक भास्कर, नेटवर्क18 जैसी संस्थाओं के बाद टाइम्स इंटरनेट तक 17 साल का सफर। देश-प्रदेश, खेल और शिक्षा, कला एवं संस्कृति जगत में खास रुचि। डिजिटल माध्यम के नए प्रयोगों में दिलचस्पी के साथ सीखने की सतत ललक…Read More

[ad_2]

Source link

Leave a Comment