Why sachin pilot was being chased ashok gehlot osd told reason


मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के साथ साथ-साथ कांग्रेस को राजस्थान में भी करारी हार झेलनी पड़ी है। यहां हर 5 साल में सरकार बदलने के रिवाज को कायम रखते हुए इस साल बीजेपी को सरकार बनाने का मौका दिया गया है। उधर कांग्रेस की हार के साथ ही पार्टी में एक बार फिर तनाव पैदा होता हुआ नजर आ रहा है। वजह है अशोक गहलोत के विशेष कार्यधिकारी रहे लोकेश शर्मा का चौंकाने वाला खुलासा। दरअसल उन्होंने दावा किया है कि एक समय पर राज्य सरकार सचिन पायलट पर नजर रख रही थी। उनका पीछा किया जा रहा था और फोन भी टैप किया जा रहा था। हालांकि उन्होंने इसकी वजह भी बताई है।

उन्होंने बताया कि ये वो समय था जब सचिन पायलट 18 विधायकों के साथ मानेसर गए थे और राजनीतिक संकट पैदा हो गया था। तब राज्य सरकार उन पर नजर रख रही थी ताकी ये पता चल सके कि वो कहां जा रह हैं, किनसे मिल रहे हैं, किससे फोन पर बात कर रहे हैं। इसके पीछे की वजह बताते हुए उन्होंने कहा, जब इस तरह का राजनीतिक संकट पैदा होता है, तो इस तरह का कदम उठाना आम बात है। सचिन पायलट और उनके साथ मौजूद लोगों पर नजर इसलिए रखी गई ताकी सुधारात्मक उपाय किए जा सकें और निगरानी के कारण ही हम कुछ लोगों को वापस ला सके।

लोकेश शर्मा ने कहा, मैंने केवल वो स्थिति बताई है जिसके कारण हम सत्ता में वापस नहीं आ पाए। और सचिन पायलट का ये कहना कि इस पर संज्ञान लिया जाना चाहिए, मेरे मुताबिक उचित है क्योंकि ये सारी चीजें पार्टी की भलाई के लिए हैं। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि युवाओं को आगे बढ़ाया जाए। बता दें, लोकेश शर्मा विधानसभा चुनाव लड़ना चाहते थे। उन्होंने बीकानेर और भीलवाड़ा से चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की थी। हालांकि गहलोत की तरफ से कोई प्रयोग करने से इनकार कर दिया गया।

हमें फॉलो करें

ऐप पर पढ़ें





Source link

Leave a Comment